विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने सभी विश्वविद्यालयों व कॉलेज कैंपस की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। ">

टास्क फोर्स करेगी यूनिवर्सिटी कैम्पस सुरक्षा की समीक्षा

भोपाल। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने सभी विश्वविद्यालयों व कॉलेज कैंपस की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। आयोग ने विश्वविद्यालयों व कॉलेजों में छात्राओं व महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था व लैंगिक संवेदीकरण की समीक्षा के लिए टॉस्क फोर्स गठित की है तथा इसके लिए सुझाव मांगे हैं।

आयोग ने सभी विश्वविद्यालयों को नोटिस जारी कर कैंपस की सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए कहा है। खासकर कन्या छात्रावास व महिलाओं की सुरक्षा को लेकर विशेष इंतजाम करने की सलाह दी। साथ ही सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करने के भी निर्देश दिए हैं।
 
आयोग द्वारा गठित टॉक्स फोर्स का काम शिक्षण संस्थानों में छात्राओं व महिलाओं के उत्पीड़न को रोकने के इंतजाम को लेकर सुझाव देना, सुरक्षा की कमियों को पता कर उन्हें मजबूत करने की दिशा में काम करना,  लैंगिक आधार पर शिकायत निवारण तंत्र को मजबूत करना. लैंगिक समानता को लेकर समाज को जागरूक करने संबंधी अकादमिक कार्यक्रम संचालित करना, यूनिवर्सिटी के कोर्स में लैंगिक शिक्षा व संवेदीकरण को जोड़ने के लिए सुझाव प्राप्त करना, भविष्य में यूनिवर्सिटी में शिक्षक व गैर शिक्षक पदों पर होने वाली भर्ती के दौरान लैंगिक संवेदनशीलता को अनिवार्य योग्यता बनाने की दिशा में सुझाव देना होगा।
 
गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से विश्वविद्यालयों व कॉलेज कैंपस में छात्राओं व महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सवाल उठ रहे हैं। छात्राओं व महिलाओं के खिलाफ कैंपस में ही शारीरिक व मानसिक शोषण की खबरें लगातार आ रही हैं। इसे देखते हुए यूजीसी ने सख्त कदम उठाया है। 
 
1 2
Back to top