मैनिट शुरू करेगा नैनो व बायोलॉजिकल साइंस में नए कोर्स

भोपाल। मौलाना आजाद राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (मैनिट) देश के टॉप 20 इंजीनियरिंग संस्थानों में शुमार होने के लिए नए सिरे से एक्शन प्लान तैयार कर रहा है।

मैनिट बायोलॉजिकल साइंस एंड इंजीनियरिंग व नैनो साइंस एंड इंजीनियरिंग विभाग शुरू कर  बायोटेक्नोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, बायोकेमेस्ट्री व बायोफिजिक्स विषय कोर्स शुरू करने जा रहा है। यह कोर्स अगले शिक्षण सत्र से शुरू होंगे।

मैनिट द्वारा इन पाठ्यक्रमों का सिलेबस डिजाइन किया जा रहा है। इसके अलावा मैनिट छात्रों को ग्लोबल स्टूडेंट बनाने के लिए पत्रकारिता, ड्रामा, लेखन, विदेशी भाषा आदि में डिप्लोमा कोर्स भी शुरू करने की तैयारी कर रहा है।

छात्र इन डिप्लोमा कोर्सेस की पढ़ाई अपनी डिग्री की पढ़ाई के साथ कर सकेंगे। मैनिट में शुरू किए जाने वाले डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में संस्थान के बाहर के छात्र प्रवेश ले सकेंगे या नहीं इसका फैसला सीनेट की बैठक में होगा।

मैनिट डायरेक्टर प्रो. अप्पू कुटटन ने बताया कि अकादमिक स्तर सुधारने के लिए मैनिट जल्द ही शिक्षकों को एक महीने के लिए इंडस्ट्री विजिट पर भी भेजने की योजना बना रहा है। शिक्षक अपने इंडस्ट्री के अनुभवों को छात्रों के साथा साझा करेंगे। 

डायरेक्टर के अनुसार पिछले साल आईआईटी सहित देश के टॉप 37 इंजीनियरिंग संस्थानों में शुमार हो चुका है। वहीं सभी एनआईटीज में मैनिट की रैंकिंग 5 वें नंबर पर है। उन्होंने बताया कि मैनिट को देश के टॉप 20 इंजीनियरिंग संस्थानों में शामिल करने के लिए प्रयास  किए जा रहे हैं। 

डायरेक्टर ने आगामी 31 अगस्त को मनाए जाने वाले 10 वें दीक्षांत समारोह की भी जानकारी दी। उन्हों ने बताया कि दीक्षांत समारोह में करीब 1273 बीटेक, 234 एमटेक व 38 पीएचडी छात्रों को डिग्री प्रदान की जाएगी।

समारोह के मुख्य अतिथि डीआरडीओ के पूर्व निदेशक व प्रधानमंत्री के मुख्य तकनीकी सलाहकार डॉ. वीके सारस्वत होंगे। इस बार मैनिट एक नया गोल्ड मेडल लांच कर रहा है, जो ओवरऑल टॉपर को दिया जाएगा।
1 2
Back to top